सीरवी समाज - मुख्य समाचार

Result : 91 - 105 of 2081   Total 139 pages
Posted By : 16 Aug 2023, 09:58:16सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
##मेवाड़ और मारवाड़ को जोड़ने वाले काली घाटी मार्ग के करमाल चौराहे के सबसे नजदीक सीरवी आबाद गांव का नाम है -चौकड़िया।
मारवाड़ से 36 किमी दूर एवं मेवाड़ में कामली घाट से 15 किलोमीटर और देवगढ़ मदारिया से 20 किलोमीटर की दूरी पर यह गांव पूर्व में अरावली पर्वतमाला की सुरम्य वादियों की तलहटी में पंचायत मुख्यालय का लगभग 400घर की बस्ती वाला गांव है जहां सर्वाधिक सीरवी समाज का बाहुल्य है अन्य जातियों में राजपूत, देवासी, वैष्णव, सुथार,नाई, तेली, ढोली, वादी, कुम्हार, लौहार आदि बसे हुए हैं दर्जी इस गांव को छोड़कर चले गए हैं।
सीरवी समाज के लगभग 175 घर है जिनमें से सर्वाधिक 50 घर बर्फा परिवा..
Posted By : 16 Aug 2023, दुर्गाराम पंवार
सीरवी समाज बैडमिंटन प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

तमिलनाडु/चेन्नई-/सीरवी स्पोर्ट्स एसोसिएशन ऑफ तमिलनाडु के तत्वावधान में अखिल भारतीय सीरवी बैडमिंटन टूर्नामेंट 13 अगस्त 2023 को स्मैशबाउंस, कोरातुर, चेन्नई में आयोजित किया गया। इस टुनौमेंट में देवराज देव, आईएएस उपाध्यक्ष साइंस सिटी, चेन्नई और डवराराम सोलंकी के सहयोग से समिति का लोगो लॉन्च किया। तमिलनाडु के सीरवी स्पोर्ट्स एसोसिएशन के लोगो और टूर्नामेंट को लॉन्च करने के लिए गौरव प्रायोजक की मदद से सफल होने के लिए समिति के सदस्यों ने धन्यवाद दिया। इस टूर्नामेंट में राजस्थान, उज्जैन, मैसूर, तुमकुर, तमिलनाडु से कुल 350 खिलाड़ि..
Posted By : 15 Aug 2023, 09:01:00सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
##मारवाड़ जंक्शन से 25 किलोमीटर की दूरी पर रडावास पंचायत में 5 किलोमीटर की दूरी पर गुड़ा रामसिंह, गुड़ा दुर्जन,चौकड़िया और गुड़ा रुघनाथ सिंह के मध्य मात्र 200 घर की बस्ती है -गुड़ा प्रेम सिंह।
यहां पर सीरवी समाज के अलावा राजपूत, देवासी, वैष्णव, सुथार,दर्जी, ब्राह्मण, मेघवाल ढोली, वादी,हाटिया आदि जाति के लोग निवास करते हैं।
सीरवी समाज में सर्वाधिक राठौड़, सोलंकी और इक्का दुक्का घर देवड़ा,पंवार गौत्र के परिवार बसते हैं।
यहां पर श्री आई माताजी मंदिर बडेर की प्राण प्रतिष्ठा विक्रम संवत २०६२ जेठ बदी ५ सोमवार दिनांक13-06-2005
को परम पूज्य दीवान साहब माधव सिंह जी के कर कमलों से ..
Posted By : 14 Aug 2023, 07:09:40सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
##मारवाड़ जंक्शन से 17 किलोमीटर की दूरी पर बसा हुआ गांव है- आंगदोष। इस गांव के चारों ओर के गांवों में 5 किलोमीटर पश्चिम में आउवा, 02 किलोमीटर पूर्व में रडावास,04 किलोमीटर उत्तर में चेलावास और 04 किलोमीटर दक्षिण में गुडा केसर सिंह आया हुआ है।
यह गांव लगभग 600 घर की बस्ती है जिसमें लगभग ढाई सौ घर सीरवी समाज के है। अन्य में चारण, वैष्णव, सुथार, कुम्हार,नाई, मेघवाल नायक सरगरा, वादी,तेली आदि है। सीरवी समाज में मात्र चार गौत्र चार स्तम्भ के रूप में है, जिनमें लचेटा, सोलंकी, देवड़ा और चोयल मुख्य है इनके अलावा गहलोत और सैणचा के इक्का दुक्का घर है।
इस गांव में श्री आई माता जी मंदिर बडेर के..
Posted By : 14 Aug 2023, 02:22:13 दुर्गाराम पंवार
तमिलनाडु/कोयम्बटूर शहर
*राष्ट्रीय सीरवी किसान सेवा समिति के राष्ट्रीय महासचिव श्री जगदीश जी सिंदडा ने समाज की होनहार प्रतिभा को खेल,शिक्षा में दिए 20000/-रुपये पारितोषिक ।*
संक्षिप्त परिचय/श्री जगदीश जी सिंदडा सुपुत्र श्री स्व.गणेशरामजी माता स्व.श्रीमती टेमु देवी सीरवी।
मूलनिवासी/गांव सांडीया,तहसील सोजत सिटी, पाली, राज.।
वर्तमान निवास स्थान/प्रतिष्ठान:-देवप्रिया टेक्सटाइल, कोयम्बटूर सिटी।
आपने राष्ट्रीय सीरवीं किसान सेवा समिति के माध्यम 20 हजार रुपए समाज की होनहार प्रतिभा अजिता सीरवी को शिक्षा,खेल में 20 हजार सीधे उनके खाते में भेजकर पारितोषिक प्रदान किया,होन..
Posted By : 13 Aug 2023, 06:26:47सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
इक घर रिंया शाह रो, दूजो बिलाड़ा दीवाण।
आधा में मुरधर बसे, जसवंत मुख फरमाण।
जोधपुर दरबार महाराजा जसवंतसिंह जी के श्री मुख से उच्चारित इस दोहे का मारवाड़ जंक्शन तहसील के एक गांव से विशेष संयोगमय रिश्ता है अर्थात रिंया शाह, बिलाड़ा दीवान जी और जोधपुर दरबार तीनों ने जिस गांव में तोरण बदा कर विवाह किया वह गांव है -रडावास।
मारवाड़ जंक्शन से 15 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में गादाणा आंगदूष के पास गांव रडावास में विक्रम संवत 1912 से 1920 के मध्य रियां सेठ ने यहां के जैन गांधी परिवार में, बिलाड़ा दीवाण जी लक्ष्मण सिंह जी ने यहां भायल परिवार में मगनी बाई से और जोधपुर दरबार श्री तखतसिं..
Posted By : 12 Aug 2023, 08:36:16सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
##मारवाड़ जंक्शन से 11 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में राणावास से 03 किलोमीटर पश्चिम में चौताले का चावा नाम है- गांव गादाणा।
छत्तीस कौम में लगभग एक हजार घर की आबादी में सीरवी बाहुल्य गांव गादाणा में अन्य जातियों में जैन, राजपुरोहित, देवासी,दर्जी, कुम्हार, कारीगर,रावल,सुनार, मालवीय लौहार, मेघवाल, मीणा,वादी आदि निवास करते हैं।
सीरवी समाज के पंवार, राठौड़,काग,लचेटा,सिन्दड़ा,सेपटा, सोलंकी,चोयल, भायल, गेहलोत,आगलेचा गौत्र के बांडेरु बिलाड़ा पाट की पूजा करते हैं जबकि केवल सैणचा बिजोवा पाट की पूजा करते हैं। कोई समय में दो जमादारी के घरों में दो अलग अलग पाट हुआ करते थे एवं उनकी पूजा अर..
Posted By : 11 Aug 2023, 04:44:12सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
##पाली जिले का कश्मीर कहा जाने वाला गौरम घाट, सुरंग एवं उसकी सुरम्य वादियों को देखने के लिए मारवाड़ जंक्शन से मावली क्षेत्र में एकमात्र मीटर गेज रेल मार्ग पर किसी जमाने में नामवर स्टेशन हुआ करता था- राणावास।
आज आज वही स्टेशन दुर्दशा के आंसू बहा रहा है एकमात्र रेल मारवाड़ से मावली एवं वापसी में मावली से मारवाड़ रेल यहां रूकती है। दोनों रेल दिन में बारह से डेढ़ बजे के बीच गुजरती है, टिकट भी गार्ड बाबू से लेना होता है स्टेशन पर कोई स्टाफ नहीं है। जिनका क्रॉसिंग फुलाद में होता है अतः आज गोरम घाट उतर गये तो वापसी के लिए अगले दिन रेल मिलती है।
बड़े कस्बे के रूप में आसपास के ए..
Posted By : 09 Aug 2023, 07:32:34सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
विक्रम संवत 2025 और दो कौम आमने-सामने। एक तरफ राजपूत जिनके साथ में 40- 50 रावत और अन्य लोग भी। दूसरी तरफ सीरवी समाज के मात्र आठ सीरवी बंधु जिनमें से सामना करने की सामर्थ्य केवल उमबा,मेगोबा जस्सोबा,तेजोबा और ओटो बा। हमनें विक्रम संवत 1368में जालौर के साका के समय विपत्ति में तलवार भले ही छोड़ दी एवं हाथ में हल धारण कर आगे होकर युद्ध नहीं करने की ठान ली लेकिन क्षत्रियता का स्वाभिमान तन मन और खून में था वह जाग उठा और अपनी ईष्ट देवी को याद कर जो सामने आये उनको छटी का दूध याद दिला दिया और रडावास के ठाकुर साहब ने दोनों कौम को एक साथ बिठाकर समझौता करवाया।जिसे आज की पीढ़ी याद कर गर्व महसूस करते..
Posted By : 08 Aug 2023, 13:52:27सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
##श्री आईमाता सीरवी समाज कल्याण बोर्ड गठित करने की कलेक्टर के माध्यम से राजस्थान सरकार से मांग की गई ।

अखिल भारतीय सीरवी युवा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश चौधरी ने बताया की आज पाली जोधपुर, ब्यावर, राजसमंद के सीरवी समाज ने कलेक्टर के माध्यम से राजस्थान सरकार से श्री आईमाता सीरवी समाज कल्याण बोर्ड गठित करने की मांग रखी, सुरेश चौधरी ने बताया की सीरवी समाज का इतिहास लगभग 700 वर्ष पुराना है, सिरवी समाज की आराध्य देवी आईमाता है, सीरवी समाज की उन्नति और उत्थान हेतु एव सीरवी समाज के इतिहास को संजोये रखने के लिए राज्य स्तरीय समाज के कल्याण हेतु बोर्ड का बनना अति आवश्यक है। व..
Posted By : 08 Aug 2023, 04:14:15सीरवी गोविंद सिंह पंवार रोबड़
##पाली:- मारवाड़ जंक्शन तहसील में राणावास से मात्र 2 किलोमीटर पूर्व में स्थित ग्राम मलसाबावड़ी पिछले फरवरी महीने में पूरे सीरवी समाज में चर्चित हुआ था जब यहां पर 5 फरवरी 2023 माघ सुदी पूनम को श्री आई माताजी मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा परम पूज्य दीवान साहब श्री माधव सिंह जी के कर कमलों से संपन्न हुई थी। यहां पर श्री आई माताजी मंदिर के समक्ष छोटे छोटे मंदिर बनाकर यहां रहने वाली गौत्र की कुलदेवियों को एक साथ विराजमान किया ये यहां की मुख्य विशेषता है यहां विराजमान देवियों में शीतला माता,आदि गौत्र पंवारों की कुलदेवी अर्बुदा माता, आदि गौत्र राठौड़ों की कुल देवी नागणेच्या माता और आदि..
Posted By : 05 Aug 2023, 08:43:26 सीरवी गोविन्द सिंह पंवार रोब१
##पाली -बगडी नगर:- की तपस्थली तथा श्री आई माताजी मंदिर बडेर बेरा हामड़ो का पीपलिया एवं बाबा रामदेव जी स्थल।

बगड़ी नगर ग्राम की पूर्वी सीमा पर आठ किलोमीटर दूर बसी एक बड़ी ढाणी का रात दिन मेहनत कर नहीं थकने का चौताले में चावा नाम है - बेरा हामड़ों का पीपलिया।
हरजी महाराज की तपस्थली एवं आपके गुरु गेना महाराज की तस्वीर के साथ एक तरफ बाबा रामदेव जी के घोड़लिया एवं दूसरी तरफ मां श्री आई माताजी के पाट की स्थापना, अखंड ज्योति की स्थापना,शनि देव के दीपक की स्थापना,केलवाद की कालका माता की स्थापना के साथ चौक में शिव शंकर भगवान भोलेनाथ के शिवलिंग और शिव परिवार की स्थापना,धूणा के सा..
Posted By : Posted Byमनोहर राठोड़ मैसूर on 11 Oct 2016, 08:33:27
मैसूर शहर के केआरएस रोड़ स्थित सीरवी समाज के आईमाता मंदिर परिसर में नवरात्री पूर्व के दौरान पुरे 10 दिनों तक चले कार्यक्रम मे कई प्रकार के आयोजन हुए। मनावर ( म.प्र.) से पधारे सीरवी पंथ के संतश्री बालयोगी, मनोजकुमार राठौड़ महाराज द्वारा श्रीमद्ध भागवत कथा वाचन व जागरण का आयोजन हुआ । इसके पूर्व श्रीमद्ध भागवत ज्ञान गंगा के समापन समारोह के ठीक एक दिन पहले श्रीबालाजी मंदिर से रविवार शाम 6 बजे शोभायात्रा प्रांरभ हुई जो गोकुलम रोड़, केआरएस रोड़ होते हुए रात्रि 8 बजे आईमाता मंदिर परिसर पहुँचकर सम्पन्न हुईं। शोभायात्रा में सीरवी समाज के अध्यक्ष मोटाराम सोलंकी के मार्गदर्शन में बैल ..
Posted By : Posted By गोविंद जी पंवार बिलाङा on 30 Sep 2016, 13:54:04
प्रस्तुति : गोविन्द पंवार, सह प्रभारी सीरवी शिक्षा सहायता कोष समिति बिलाडा

युवा जब संगठित प्रयास करता है तो क्रान्ति का सूत्रपात होता है, सीरवी समाज के नवयुवको के इस परगना स्तरीय संगठन के युवाओं ने पिछले एक वर्ष में सामाजिकता को ना केवल जाना और समझा है अपितु समाज में सामाजिकता के नए आयाम विकसित करने का ताना बाना रचने की शुरुआत की है । जैसा की पाठक वर्ग को पूर्व के अंको से ज्ञात है कि सीरवी नवयुवक मंडल परगना समिति बिलाड़ा ने अपने गठन के मात्र एक साल के भीतर ही समाज में सामाजिकता के कार्य पूर्ण करने के लिए अपने प्रयास प्रारम्भ किये जिनमे से एक प्रयास है समाज में “आर्थिक ..
Posted By : Posted By दिलीप कुमार सीरवी on 18 Sep 2016, 19:38:16
केआरएस रोड़ स्थित सीरवी समाज वडेर, भवन में मनाया गया गणपति महोत्सव !!

मैसूर  :- शहर के केआरएस रोड़ स्थित सीरवी समाज के वडेर  परिसर में हेब्बाल नवयुवकों द्वारा आयोजित गणेश महोत्सव में भगवान श्री गणेश की प्रतिमा की स्थापना की गयी और प्रतिमा का अभिषेक किया गया। गणेश उत्सव को लेकर  हेब्बाल के नवयुवकों द्वारा पुरे मंदिर परिसर को रंग बिरंगे फूलों से सजाया गया तथा भगवान श्री गणेश का पाठ को विशेष कर पुष्पो से सजाया गया । इस दौरान भगवान् श्री गणेश की प्रतिमा के समक्ष दिप प्रज्ज्वलित कर पूजा अर्चना की। इस उपलक्ष्य में रात्रि आईमाता मन्दिर परिसर  में जागरण का आयोजन हुआ । शुभारंभ..
Result : 91 - 105 of 2081   Total 139 pages