सीरवी समाज - मुख्य समाचार

Result : 46 - 60 of 2081   Total 139 pages
Posted By : 25 Sep 2023, 05:37:54सीरवी गोविन्द सिंह रोबड़ी
##पाली जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर ब्यावर सड़क मार्ग पर उपखंड मुख्यालय का नगर है- सोजत नगर
सोजत नगर में 36 कौम के साथ सीरवी समाज के भी 103 घर है जिनमें सोलंकी बरफा, परिहारिया, राठौड़,चोयल, काग और गहलोत है। सीरवी समाज की उत्पत्ति के बाद जालौर से पाली जिले में आगमन के समय सर्वप्रथम सोजत में ही आकर सीरवी बसे थे, और इन्होंने ही यहां पर हनुमान बालाजी की स्थापना की थी। यहीं से सीरवी आसपास के गांवों में जाकर बसे थे।
सीरवियों के बास में श्री आई माता जी की बडेर बनी हुई है, बडेर के आसपास सीरवियों के लगभग 30 घर है, बाकी सीरवी बेरों पर रहते हैं, सोजत नगर के लगभग 12 बेरों पर सीरवी रहते हैं।..
Posted By : 24 Sep 2023, 05:06:36गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत नगर से 3 किमी खारिया नींव से 7 किमी दूर खारिया, चामड़ियाक, बिलावास, सोजत, मंडला और धंधेड़ी के मध्य 400 घर की बस्ती है- रामासनी बाला।
रामासनी बाला में सीरवी, कुम्हार, राजपूत, राजपुरोहित, कारीगर, रावणा राजपूत, मेघवाल, सरगरा, सुनार,माली, घांची, ढोली, लोहार और देवासी बसते हैं।
36 कौम में सीरवी समाज के 100 घर है, जिनमें आधे में पंवार है, अन्य गौत्र में बरफा, सिंदड़ा, हाम्बड़, गहलोत, काग, चोयल, मुलेवा और लचेटा है।
यहां पर श्री आई माताजी मंदिर बडेर हेतु लगभग साढे तीन बीघा का भूखंड लिया हुआ है, जिस पर काफी निर्माण किया हुआ है पर श्री आई माताजी मंदिर बडेर निर्माण नहीं हो पाया है..
Posted By : 24 Sep 2023, 05:02:44गोविंद सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत तहसील मुख्यालय से 12 किमी, बिलाड़ा से 24 किमी जेतीवास, अटपड़ा, रुंदिया, मंडला, धंधेड़ी, रामासनी बाला, चामड़ियाक, लुंडावास, बूटेलाव, मेव और गुजरों की ढाणी के मध्य पंचायत मुख्यालय का गांव हैं- खारिया नींव।
खारिया नींव छत्तीस कौम के लगभग 900 घर की बस्ती है, जिसमें सीरवी,जाट, मेघवाल, देवासी, सरगरा, राजपूत, तेली, सुनार, कुम्हार, वैष्णव, ब्राह्मण, गुर्जर, कलाल और हाटिया आदि जातियां यहां बसी हुई है।
सीरवी समाज के यहां लगभग डेढ़ सौ घर है जिनमें परिहारिया, बरफा, सोलंकी, सेपटा, पंवार, राठौड़, सैणचा भगत, काग, हाम्बड़, चोयल, देवड़ा और भायल है।
यहां पर श्री आई माताजी का मंदिर बडेर ल..
Posted By : 24 Sep 2023, 05:00:36गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##बिलाड़ा से 8 किमी दूर, बिलाड़ा,जेतीवास,थरासनी,बड़ी, बिजासनी और अटपड़ा के मध्य नई ग्राम पंचायत बिजासनी के ग्राम का नाम हैं - जेलवा।
लगभग 350 घर की सीरवी बाहुल्य बस्ती में सीरवी समाज के अलावा सुथार, कुम्हार, गोस्वामी, राजपूत, ब्राह्मण, मेघवाल, सरगरा हरिजन आदि बसे हुए हैं। सीरवी समाज के लगभग 200 घर है जिनमें चोयल, राठौड़, परिहार,काग, पंवार, आगलेचा, हाम्बड़ और बरफा निवास करते हैं।
यहां पर श्री आई माताजी का भव्य मंदिर बडेर बनाया हुआ है जो कि श्वेत मार्बल में बहुत ही भव्य रूप में निर्मित है,जो सोमपुरा के रूप में पेमाराम जी काग द्वारा निर्मित है, चारों ओर सजावट किया हुआ बरामदा है, यह..
Posted By : 21 Sep 2023,दुर्गाराम पँवार
किसी कवि ने क्या खूब लिखा है कि --
यह हर उस व्यक्ति के लिए सफलता का बड़ा मूलमंत्र है जो पुरुषार्थ को साथ लेकर दृढ़ संकल्प इरादों से मंजिल की धुन में आगे बढ़ते रहते हैं।ऐसे व्यक्ति ही जीवन में सफलता अर्जित करते हैं और वे अपने सपने को साकार कर जाते हैं।
*चेत बंदे पत्रिका परिवार बैनर तले सामाजिक अधिवेशन एवं कॅरियर कॉउंसिल कार्यक्रम बेंगलुरु में हुए 26 व 27 अगस्त 2023 को आपकी की ओर से कार्यक्रम की प्रथम शुरुआत सांस्कृतिक में भजनों की शुरूआत श्री आईमाताजी की प्रस्तुतियां देकर की गई।* हमारे एक कॉल पर आप व आपकी टीम आकर आपने इस कार्यक्रम के लिए सहयोग प्रदान करने पर आपको पत्रिका परिवार क..
Posted By : Manohar Seervi 20 Sep 2023, 02:00:51
सिंघाना ( निज ) मध्य प्रदेश आंचलिक पत्रकार संघ जिला इकाई द्वारा आंचलिक पत्रकार सम्मेलन एवं सम्मान समारोह पर्यटन स्थल मांडव में श्री चतुर्भुज राम मंदिर में संपन्न हुआ जिसमें धार जिले सहित अन्य जिलों के श्रेष्ठ पत्रकारों व समाज सेवियों का सम्मान किया गया। सम्मेलन में मार्गदर्शन के लिए वरिष्ठ पत्रकार,चिंतक एवं लेखक द्वारा भी प्रशिक्षण दिया गया साथ ही जिले के ग्रामीण क्षेत्र के आए पत्रकारों का भी सम्मान किया गया। चतुर्भुज श्री राम मंदिर मांडव के महंत महामंडलेश्वर डॉ नरसिंह दासजी महाराज के पावन सानिध्य में डा सोलानी सिंह निरगुदे ( विभागध्यक्ष पत्रकारिता एवं जनसंचार ..
Posted By : 19 Sep 2023, 09:02:48गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##तहसील मुख्यालय सोजत नगर से 11 किमी मंड़ला मोड़ से बिलाड़ा स्टेट हाईवे पर रुंदिया से दो किमी पहले स्थित 500 घर की बस्ती एवं पंचायत मुख्यालय का गांव है- मंडला।
इस गांव में सीरवी, देवासी, राजपूत, राजपुरोहित, कुम्हार, नाई, दरजी, मेघवाल, सरगरा, चौकीदार दमामी, गर्ग, वैष्णव, रावत, बंजारा, भाट तथा गिरी पुरी निवास करते हैं।
सीरवी समाज के लगभग 125 घर है जिनमें सोलंकी, काग, आगलेचा, पंवार, लचेटा, राठौड़, चोयल आदि निवास करते हैं। यहां सोलंकी सर्वाधिक मात्रा में निवास कर रहे हैं।
यहां पर श्री आई माताजी मंदिर बडेर की प्राण प्रतिष्ठा सन 1987 में श्री आई माता जी के धर्मरथ भैल एवं धर्मगुरु ..
Posted By : Manohar Seervi 18 Sep 2023, 01:31:40
मनावर समीपस्थ ग्राम निगरनी मे
भादव बीज को धूमधाम से मनाते हुए आई माता की गादी चढ़ाई गई, प्रसाद वितरण हुआ एवं अखिल भारतीय सिरवी युवा संगठन के द्वारा सभी समाज बंधुओ के ब्लड ग्रुप की जांच कराने हेतु शिविर का आयोजन किया गया जिसमें डा ओंकार लाल बरफा, डा जितेंद्र परिहार, भाना पंवार, लक्की राठौर मंचासिन थे ,जिनका सम्मान किया गया,अग्निहोत्री पैथ लेब के संचालक उत्सव पंवार के द्वारा सभी स्वजातीय बंधुओ के ब्लड ग्रुप की जांच की गई एवं तत्काल ब्लड ग्रुप लिख कर कार्ड वितरित किए गए ।
अखिल भारतीय सिरवी महासभा के युवा अध्यक्ष कमल काग, महासचिव कपिल परिहार, सुनिल राठौर, धीरेंद्र परिहार, ..
Posted By : Manohar Seervi 17 Sep 2023, 13:40:41
सिंघाना (स्वदेश समाचार ) सिर्वी समाज द्वारा अपनी कुलदेवी श्रीआई माताजी का प्रोकटत्सव भादवी बीज को बड़ी धूमधाम से सिंघाना बनाया गया यहा इस पर्व पर सिर्वी समाज में उत्साह उमंग का भक्ति भाव का नजर आया माता जी के प्रकट उत्सव पर मंदिर परिसर को विशेष श्रृंगारित किया कर छप्पन भोग प्रसादी का भोग लगाया ..साथथ ही यहां इस पर्व पर विशाल अखंड ज्योत की शोभायात्रा श्रीआई माताजी मंदिर सुसज्जित पर रथ पर विराजित कर नगर भ्रमण किया गया जो विभिन्न मार्गो से होती हुई पुनः श्री आई माता मंदिर प्रांगण पहुंची जगह-जगह श्री आई भक्तों द्वारा अखंड ज्योत और गादी पाठ की पूजा अर्चना करते हुए क्षेत्र की..
Posted By : 16 Sep 2023, 06:21:50गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##तहसील मुख्यालय सोजत नगर से 11 किमी, सोजत रोड से 6 किमी दूर खोखरा, पाचुंडा कलां, सोजत रोड, सियाट और सरदारपुरा के बीच 450 घर की बस्ती सियाट ग्राम पंचायत का गांव है- पाचुंडा खुर्द।
इस गांव में सीरवी, देवासी, राजपूत, कुम्हार, माली, गर्ग, मेघवाल, सरगरा, लोहार, चौकीदार, ब्राह्मण और वैष्णव निवास करते हैं।
सीरवी समाज के लगभग 70 घर है, जिनमें आगलेचा, सैणचा, गहलोत, मुलेवा, बरफा, चोयल और भायल यहां निवास करते है।
यहां श्री आई माताजी मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा विक्रम संवत २०६६ जेठ सुदी छठ दिनांक 29 मई 2009 को श्री आई माता जी के धर्म रथ भैल और परम पूज्य दीवान साहब माधव सिंह जी के कर कमलों से हर..
Posted By : 15 Sep 2023, 09:18:25गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत नगर से 12 किमी दूर सोजत रोड से 4 किमी दूर भैसाणा,रेंदडी,आलावास,सियाट, सोजत रोड़, धुंधला और संवराड़ के मध्य मात्र 550 घर की वह बस्ती जिसने सीरवी समाज के गौरव को बढ़ाया और पूरे राजस्थान में पहला IAS अधिकारी बनाने का श्रेय पाया उस गांव का नाम हैं- सिसरवादा।
सिसरवादा में सीरवी और राजपूत जाति का बाहुल्य है। इनके बाद में देवासी, मेघवाल, सरगरा, माली, घांची, जाट, कुम्हार, दर्जी, वैष्णव, ब्राह्मण आदि जाति के लोग रहते हैं जिनमें 125 घर सीरवी समाज के हैं।
सीरवी समाज में भी चोयल गौत्र का डंका है लगभग 100 घर चोयल गौत्र के हैं, बचे हुए में काग, बरफा, मुलेवा, देवड़ा और सोलंकी है। यहां पर श्री ..
Posted By : 15 Sep 2023, 09:16:26गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत नगर से 10 किमी, सोजत रोड से 6 किमी, मारवाड़ जंक्शन से 16 किमी की दूरी पर सिसरवादा, संवराड़, रिसाणिया, खारिया सोडा, मामावास, रेन्दडी के मध्य बसा हुआ गांव जहां श्री आई माताजी द्वारा परचा दिखाया और भैंसों के पत्थर बनाए वह गांव है- भैंसाणा।
श्री आई माताजी की आरती में भी गाया जाता है कि
भैंसाणा में कीना भाटा।
भैंसाणा में छत्तीस कौम के लगभग 450 घर है जिनमें सीरवी, देवासी, राजपूत, मेघवाल, कुम्हार, ब्राह्मण, सुथार,नाथ,दमामी और हरिजन यहां निवास करते हैं।
सीरवी समाज के लगभग 100 घर है जिनमें बरफा, परिहार,काग, सोलंकी, सानपुरा, पंवार और गहलोत गौत्र है।
यहां श्री आई माताजी मंदिर ..
Posted By : 14 Sep 2023, 12:04:25
####श्री आई पंथ की आराध्य देवी श्री आईमाता जी के 608 वें प्रकटोत्सव/अवतरण दिवस व \"भादवी बीज\" महापर्व की आप सभी को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

जगत जननी माँ श्री आईजी का आर्शीवाद आप पर हमेशा बना रहें और आपकी हर मनोकामना पूर्ण करे
_______________
सीरवी समाज की आराध्य देवी श्री आई माताजी के 608 वें अवतरण दिवस भादवा सुदी बीज को पूरे भारत वर्ष में दि.17 सितंबर 2023 वार रविवार को बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा।
===================
सीरवी समाज़ के सभी महानुभावों, सज्जनों व माताओं और बहिनों से निवेदन है कि भादवा सुदी बीज के महापर्व पर आप सभी अपनी पारंपरिक वेशभूषा,पौशाक पहन कर अपने धार्मिक मंदिर में ..
Posted By : 14 Sep 2023, 12:00:48गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत नगर से 11 दूर किमी पंचायत मुख्यालय का गांव जो आसपास के क्षेत्र का बाजार है, जिसमें आसपास के कई गांव से लोग खरीदारी के लिए यहां आते हैं, और यह गांव रेलवे की देन है जिसे रेलवे लाइन निकलने पर स्टेशन के रूप में बसाया गया प्रारंभ में धूंधला के पास स्टेशन बना होने से धूंधला का स्टेशन कहलाता था पर वास्तव में इस गांव का नाम है- सोजत रोड।
सोजत रोड में आसपास के कई गांवों के सीरवी बंधुओं ने अच्छे बाजार के कारण व्यापार व्यवसाय के लिए इस नगर को चुना और धीरे-धीरे ये यहां के निवासी होते गए, सीरवी समाज सोजत रोड की विशेष कर आसपास के 32 गांवों के सीरवी बंधुओं के सामूहिक प्रयास से निर्मि..
Posted By : 14 Sep 2023, 11:57:57गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत रोड रेलवे स्टेशन के बिल्कुल सामने जो गांव आया हुआ है वह तहसील मारवाड़ जंक्शन का गांव है और तहसील मुख्यालय से 28 किलोमीटर दूर है, कोई समय सोजत रोड का जो स्टेशन कहलाता था वह गांव है- धुंधला।
धुंधला गांव लगभग 1200 घर की बस्ती है जिसमें सर्वाधिक जाटों का बाहुल्य है, जाटों के अलावा सीरवी, सुथार, कुम्हार, मेघवाल, सरगरा आदि कौम के साथ कालबेलिया बहुतायत में बसे हुए हैं।
सीरवी समाज के लगभग 52 घर है जिनमें से जस्साराम जी परिहार भीकाराम जी आगलेचा के घर जंवाई आये हुए हैं, और ये ही एक मात्र डोरा बंद है, श्री आई माताजी मंदिर बडेर की छटा देखते ही बनती है। सीरवी समाज के श्री आई माताजी के भा..
Result : 46 - 60 of 2081   Total 139 pages