सीरवी समाज - मुख्य समाचार

Result : 16 - 30 of 2061   Total 138 pages
Posted By : 01 Oct 2023, 11:21:42गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##राजस्थान:-पली जिले के सोजत तहसील मुख्यालय से 28 किमी दूर सरदार समंद के पास बीजपुर,खामल,भाटों की ढाणी, सरदार समंद,पांचवा कलां, गागूड़ा और मोडावास के मध्य पंचायत मुख्यालय एवं पुलिस थाना मुख्यालय का गांव है - शिवपुरा।
छत्तीस कौम के लगभग 450 घर की बस्ती के शिवपुरा गांव में देवासी,भाट, गुर्जर, सीरवी, राजपूत, पालीवाल, ब्राह्मण, वैष्णव, मेघवाल, सरगरा, हरिजन, ढोली, तेली एवं धोबी जातियों का बसाव है।
सीरवी समाज के लगभग 60 घर है जिनमें चोयल,आगलेचा काग, गहलोत, परिहार, सिन्दड़ा, राठौड़ और लचेटा गौत्र के सीरवी बंधु यहां बिराजते है।
इनमें से लगभग 20 घर मोडावास के पास भैरो बा चोयल के नाम पर ..
Posted By : 01 Oct 2023, 11:17:20गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##राजस्थान :-पाली जिले के सोजत तहसील से 17 किमी दूर मोडावास, गागूड़ा, संडारड़ा, अजीतपुरा, धाकड़ी, बागावास और मालपुरिया के मध्य पंचायत मुख्यालय का गांव है- सुरायता।
छत्तीस कौम के लगभग 700-800 घरों की बस्ती में सीरवी, चौकीदार, गुर्जर, देवासी, राजपुरोहित, राजपूत, कुम्हार, मालवीय लौहार,राव, मेघवाल, सरगरा, वादी, तेली, पठान और गाडोलिया लौहार यहां पर बसे हुए हैं।
यहां पर सीरवी समाज के लगभग 180 घर है जिनमें आध में चोयल है, बाक़ी में आगलेचा,बरफा, परिहार, हाम्बड़, गहलोत, भायल, सैणचा, राठौड़, पंवार, लचेटा और सोलंकी गौत्र के सीरवी बंधु निवास करते हैं।
इस गांव में सभी जातियों के दो-दो बास है, सी..
Posted By : 30 Sep 2023, दुर्गाराम पंवार
जोधपुर/बिलाड़ा:- समाज की गौरव।

*अंकु राठौड़ का उच्च प्राथमिक विद्यालय अध्यापक सीधी भर्ती-2022 लेवल -2 सामाजिक विषय में चयन।*

संक्षिप्त परिचय/
संघर्षशील होनहार प्रतिभा *श्रीमती अंकु राठौड़ सुपुत्री श्री तुलछाराम राठौड़(अध्यक्ष भारतीय किसान संघ, जोधपुर ) माताश्रीमती मिश्री देवी सीरवी, धर्मपत्नी श्री राजेंद्र काग।*
*मूलनिवासी/ बेरा रूपजी का अरट, तहसील बिलाड़ा जोधपुर। आपने पिताश्री तुलछाराम माता श्रीमती मिश्री देवी के आंचल में पढ़ाई पुर्ण की है।*
*अंकु सीरवी ने कक्षा 10वी वर्ष 2006 मे शिवनगरी स्कूल से व 12वी रा.उच्च मा. विद्यालय उचियारड़ा बिलाड़ा से वर्ष 2008मे प्रथम श्रेणी स..
Posted By : 29 Sep 2023, दुर्गाराम पँवार
मुंबई/ *अमन चोयल का निरीक्षक (निवारक अधिकारी पाली चयन) और/मुंबई कस्टम विभाग में नियुक्ति।*

संक्षिप्त परिचय/
अमन चोयल सुपुत्र श्री बाबूलालजी माताश्रीमती ममता सीरवी।
मूलनिवासी/ गांव चंडावल नगर ,तहसील सोजत ,जिला पाली का निरीक्षक (निवारक अधिकारी ) के पद पर चयन व मुंबई कस्टम विभाग में नियुक्त होने पर हार्दिक शुभकामनाएं।
अमन सीरवी जो श्री बाबूलालजी चोयल निवासी चंडावल नगर हाल (उप निरीक्षक पुलिस, पुलिस थाना आहोर जिला जालौर) के सुपुत्र है। आपने माता श्रीमती ममता सीरवी के आंचल में पढ़ाई पुर्ण की।
अमन सीरवी ने कक्षा दसवीं जैतारण से तथा कक्षा 12वीं पाली से प्रथम श्रेणी से ..
Posted By : 28 Sep 2023, 07:59:54गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत से 11 किमी दूर धिनावास,धाकड़ी, सुरायता, संडारड़ा, हिंगावास और बिलावास के मध्य बसा हुआ मात्र डेढ़ सौ घर की आबादी वाला छोटा सा गांव है- अजीतपुरा।
यहां पर बसी हुई जातियों में सर्वाधिक चौकीदार है इनके अलावा राजपूत,सीरवी, चारण, देवासी, कुम्हार, मेघवाल एवं सरगरा जातियां बसी हुई है।
अजीतपुरा में समाज के मात्र 23 घर है, जिनमें मात्र पांच गौत्र है उनमें भी सोलह घर हाम्बड़ों के है, तीन परिहार,दो चोयल एवं एक एक सिन्दड़ा और लेरचा है।
यहां पर श्री आई माताजी मंदिर बडेर की प्राण प्रतिष्ठा सन 1981 में जति श्री मोती बाबा जी के हाथों से संपन्न हुई थी। इससे अधिक जानकारी प्र..
Posted By : 28 Sep 2023, 07:55:21गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत तहसील मुख्यालय से 12 किमी दूर गागूड़ा, बीरावास,संडारड़ा, बिलावास, लुंडावास और रुपावास के मध्य छत्तीस कौम के मात्र 150 घर की बस्ती है - हिंगावास।
हिंगावास छोटी सी बस्ती है जिसमें सीरवी समाज के अलावा देवासी, घांची, कुम्हार, गुर्जर, वैष्णव, मालवीय लौहार, नायक, मेघवाल, चौकीदार और वादी जाति के लोग बसे हुए हैं।
यहां पर सीरवी समाज के मात्र दो गौत्र राठौड़ों के 17और सोलंकियों के 05 घर कुल बाईस घर है।
श्री आई माताजी का मंदिर बडेर श्री चारभुजा जी के छत्तीस कौम के मंदिर के साथ बना हुआ है,छोटी बस्ती होने एवं प्रेम भाव से सीरवी समाज द्वारा ही श्री आई माताजी के साथ ठाकुर जी को विरा..
Posted By : 26 Sep 2023, दुर्गाराम पँवार
महाराष्ट्र/पुणे शहर
आदरणीय श्रीमान *रमेश जी लचेटा (चौधरी) ने शिक्षा के क्षेत्र में दिए 70000/-रुपये*

किसी ने क्या खूब कहा है-
\" जिसने भी खुद को खर्च किया है,
दुनिया ने उसी को गूगल पर सर्च किया है
अगर आप खुद ही खुद पर भरोसा नहीं करोगे तो ,कोई और क्यो करेगा ।\"
यह हर उस व्यक्ति के लिए सफलता का बड़ा मूलमंत्र है जो पुरुषार्थ को साथ लेकर दॄढ इरादों से मंजिल की धुन में आगे बढ़ते रहते है। ऐसे व्यक्ति ही जीवन में सफलता को अर्जित करते है।
*संक्षिप्त जीवन परिचय*
शिक्षाप्रेमी, यूथ आईकन, उच्च विचार,स्पष्टवादी, संघर्षशील, समाज के सक्रिय एवं जागरूक जोशीले व्यक्तित्व के धनी,कड़ी मेहन..
Posted By : 25 Sep 2023, 09:19:25गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत तहसील मुख्यालय से 7 किमी की दूरी पर, बिलावास, अजीतपुरा, धाकड़ी, बागावास, बासनी जोधराज और सोजत नगर के मध्य बसा हुआ ग्राम है- धिनावास।
धिनावास गांव में 36 कौम के लगभग 700 घर है, जिनमें सीरवी, मेघवाल, कुम्हार, देवासी, सरगरा, मालवीय लोहार, गोस्वामी, राव, राजपुरोहित, जोगी, हरिजन, वादी और ढोली बसते हैं।
धिनावास गांव में सीरवी समाज के लगभग 300 परिवार है, जिनमें भायल, बरफा और राठौड़ गौत्र सर्वाधिक है। इनके अलावा लचेटा, चोयल, काग, सोलंकी, खंडाला और गहलोत यहां पर बसते हैं।
यहां पर श्री आई माता जी का श्वेत मारबल में भव्य मंदिर बडेर बना हुआ है, यहां माताजी के मंदिर की प्राण प्रति..
Posted By : 25 Sep 2023, दुर्गाराम पँवार
सीरवी क्षत्रिय समाज कोथरुड आईमाता मन्दिर में बाल संस्कार शिविर का हुआ आयोजन

पुणे। सीरवी क्षत्रिय समाज आईमाताजी मन्दिर कोथरुड में बाल संस्कार शिविर कार्यक्रम हर महिने के आखिर रविवार को दोपहर एक बजे आयोजित किया गया। शिविर के कार्यक्रम में मार्गदर्शन हेतु श्रीमति डाॅ संगीता बर्फा कालेवाड़ी, पुणे के श्रीमुख से हुआ। कार्यक्रम का शुभारंभ आईमाताजी आरती व दीप प्रज्वलित से हुआ। उसके बाद बालक व बालिकाओं के लिए खेल प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। प्रतियोगिता का कार्यक्रम की व्यवस्था युवा मंच ने संभाली। संपूर्ण कार्यक्रम का मंच संचालक पूर्व सचिव डायाराम भायल व वर्तमान सचि..
Posted By : 25 Sep 2023, दुर्गाराम पँवार
*समाज के लोकप्रिय/भजनों के कलाकार/मंच संचालक/आदरणीय श्री घीसाराम जी चोयल सीरवी*
किसी कवि ने क्या खूब लिखा है कि --
\'\'बिना काम के मुकाम कैसा?
बिना मेहनत के, दाम कैसा ?
जब तक ना हासिल हो मंजिल,
तो राह में, रही आराम कैसा ?

यह हर उस व्यक्ति के लिए सफलता का बड़ा मूलमंत्र है जो पुरुषार्थ को साथ लेकर दॄढ इरादों से मंजिल की धुन में आगे बढ़ते रहते है। ऐसे व्यक्ति ही जीवन में सफलता को अर्जित करते है।

संक्षिप्त जीवन परिचय:
स्पष्टवादी, संघर्षशील, समाज के सक्रिय एवं जागरूक जोशीले व्यक्तित्व के धनी,समाज सेवी, मिलनसार,शिक्षाविद, धर्म,संस्कृति के विचाररक, व्यवहार कुशल, दृढ निश्..
Posted By : 25 Sep 2023, 05:37:54सीरवी गोविन्द सिंह रोबड़ी
##पाली जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर ब्यावर सड़क मार्ग पर उपखंड मुख्यालय का नगर है- सोजत नगर
सोजत नगर में 36 कौम के साथ सीरवी समाज के भी 103 घर है जिनमें सोलंकी बरफा, परिहारिया, राठौड़,चोयल, काग और गहलोत है। सीरवी समाज की उत्पत्ति के बाद जालौर से पाली जिले में आगमन के समय सर्वप्रथम सोजत में ही आकर सीरवी बसे थे, और इन्होंने ही यहां पर हनुमान बालाजी की स्थापना की थी। यहीं से सीरवी आसपास के गांवों में जाकर बसे थे।
सीरवियों के बास में श्री आई माता जी की बडेर बनी हुई है, बडेर के आसपास सीरवियों के लगभग 30 घर है, बाकी सीरवी बेरों पर रहते हैं, सोजत नगर के लगभग 12 बेरों पर सीरवी रहते हैं।..
Posted By : 24 Sep 2023, 05:06:36गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत नगर से 3 किमी खारिया नींव से 7 किमी दूर खारिया, चामड़ियाक, बिलावास, सोजत, मंडला और धंधेड़ी के मध्य 400 घर की बस्ती है- रामासनी बाला।
रामासनी बाला में सीरवी, कुम्हार, राजपूत, राजपुरोहित, कारीगर, रावणा राजपूत, मेघवाल, सरगरा, सुनार,माली, घांची, ढोली, लोहार और देवासी बसते हैं।
36 कौम में सीरवी समाज के 100 घर है, जिनमें आधे में पंवार है, अन्य गौत्र में बरफा, सिंदड़ा, हाम्बड़, गहलोत, काग, चोयल, मुलेवा और लचेटा है।
यहां पर श्री आई माताजी मंदिर बडेर हेतु लगभग साढे तीन बीघा का भूखंड लिया हुआ है, जिस पर काफी निर्माण किया हुआ है पर श्री आई माताजी मंदिर बडेर निर्माण नहीं हो पाया है..
Posted By : 24 Sep 2023, 05:02:44गोविंद सिंह पंवार रोबड़ी
##सोजत तहसील मुख्यालय से 12 किमी, बिलाड़ा से 24 किमी जेतीवास, अटपड़ा, रुंदिया, मंडला, धंधेड़ी, रामासनी बाला, चामड़ियाक, लुंडावास, बूटेलाव, मेव और गुजरों की ढाणी के मध्य पंचायत मुख्यालय का गांव हैं- खारिया नींव।
खारिया नींव छत्तीस कौम के लगभग 900 घर की बस्ती है, जिसमें सीरवी,जाट, मेघवाल, देवासी, सरगरा, राजपूत, तेली, सुनार, कुम्हार, वैष्णव, ब्राह्मण, गुर्जर, कलाल और हाटिया आदि जातियां यहां बसी हुई है।
सीरवी समाज के यहां लगभग डेढ़ सौ घर है जिनमें परिहारिया, बरफा, सोलंकी, सेपटा, पंवार, राठौड़, सैणचा भगत, काग, हाम्बड़, चोयल, देवड़ा और भायल है।
यहां पर श्री आई माताजी का मंदिर बडेर ल..
Posted By : 24 Sep 2023, 05:00:36गोविन्द सिंह पंवार रोबड़ी
##बिलाड़ा से 8 किमी दूर, बिलाड़ा,जेतीवास,थरासनी,बड़ी, बिजासनी और अटपड़ा के मध्य नई ग्राम पंचायत बिजासनी के ग्राम का नाम हैं - जेलवा।
लगभग 350 घर की सीरवी बाहुल्य बस्ती में सीरवी समाज के अलावा सुथार, कुम्हार, गोस्वामी, राजपूत, ब्राह्मण, मेघवाल, सरगरा हरिजन आदि बसे हुए हैं। सीरवी समाज के लगभग 200 घर है जिनमें चोयल, राठौड़, परिहार,काग, पंवार, आगलेचा, हाम्बड़ और बरफा निवास करते हैं।
यहां पर श्री आई माताजी का भव्य मंदिर बडेर बनाया हुआ है जो कि श्वेत मार्बल में बहुत ही भव्य रूप में निर्मित है,जो सोमपुरा के रूप में पेमाराम जी काग द्वारा निर्मित है, चारों ओर सजावट किया हुआ बरामदा है, यह..
Posted By : 21 Sep 2023,दुर्गाराम पँवार
किसी कवि ने क्या खूब लिखा है कि --
यह हर उस व्यक्ति के लिए सफलता का बड़ा मूलमंत्र है जो पुरुषार्थ को साथ लेकर दृढ़ संकल्प इरादों से मंजिल की धुन में आगे बढ़ते रहते हैं।ऐसे व्यक्ति ही जीवन में सफलता अर्जित करते हैं और वे अपने सपने को साकार कर जाते हैं।
*चेत बंदे पत्रिका परिवार बैनर तले सामाजिक अधिवेशन एवं कॅरियर कॉउंसिल कार्यक्रम बेंगलुरु में हुए 26 व 27 अगस्त 2023 को आपकी की ओर से कार्यक्रम की प्रथम शुरुआत सांस्कृतिक में भजनों की शुरूआत श्री आईमाताजी की प्रस्तुतियां देकर की गई।* हमारे एक कॉल पर आप व आपकी टीम आकर आपने इस कार्यक्रम के लिए सहयोग प्रदान करने पर आपको पत्रिका परिवार क..
Result : 16 - 30 of 2061   Total 138 pages