सीरवी समाज - ब्लॉग

आलेख:-समाज में शिक्षित स्त्री - और पारंपरिक पारिवारिक मूल्यों पर प्रभाव । - प्रतिभागी - 2 - श्रीमती प्रेमलता सोलंकी पति - श्री भगवानजी सोलंकी शिक्षा - M. A. B. Ed व्यवसाय - संस्कृत अध्यापिका पता - कुक्षी जिला धार म. प्र.
Posted By : Posted By seervi on 25 Sep 2019, 12:54:26

समाज में शिक्षित स्त्री ओर पारंपरिक मूल्यों पर प्रभाव 💫 विचार मेरे विचारों में 💫
नारी का शिक्षित होना न केवल एक परिवार के लिए बल्कि हमारे समाज व हमारे राष्ट्र के लिए भी परमावश्यक है | परिवार में यदि स्त्री पड़ी लिखी है तो वह परिवार का उचित मार्ग दर्शन कर सकती है | परिवार को आगे बढ़ाने में अपनी शिक्षा के बल पर वह परिवार की आर्थिक रूप से मदत कर सकती है | सामाजिक कार्यों में अपना सहयोग दे सकती है | समाज के विकास में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान कर सामाजिक विकास को गति प्रदान कर सकती है | वर्तमान समय में एसा कोई क्षेत्र नहीं जहाँ नारी अपनी भूमिका न निभाती हो | शिक्षा, साहित्य, व्यवसाय, खेल, राजनीति हर क्षेत्र में नारी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हुई एक मिसाल कायम कर रही है |
🌸 शिक्षित नारी सबपे भारी
हमेशा निभाती अपनी जिम्मेदारी
कभी ना दिखाती कोई लाचारी
शिक्षित नारी कभी ना हारी 🌸
स्त्री यदि पड़ी लिखी है तो वह स्वयं तो आत्म निर्भर बनती है साथ ही उसके दोनों परिवार भी आत्मनिर्भर बनते है प्राचीन कल से लेकर वर्तमान समय तक नारी की महत्ता को ठुकराया नहीं जा सकता | प्राचीन काल में भी स्त्रियों ने अपनी वीरता के बल पर कई ऐसे इतिहास रचे है जो आज भी समाज में हर किसी के लिए प्रेरणा दायी है | आज भी हमारे समाज में शिक्षित बालिकाओ व महिलाओ ने ऐसे - ऐसे इतिहास रचे है जिनसे हमारा सीरवी समाज पुरे भारत वर्ष में अपने आपको गौरवान्वित महसूस करता है |
🌸🌸 पारम्परिक पारिवारिक मूल्यों पर प्रभाव 🌸🌸
🍀 शिक्षित नारी परिवार को शिक्षित, आत्मनिर्भर व स्वालम्बी बनना सिखाती है |🍀अपने परिवार की आर्थिक सहायता करती है |🍀परिवार को समाज में सम्मान का दर्जा दिलवाती है |🍀अपने परिवार का उचित मार्गदर्शन करती है |🍀शिक्षित नारी अपने कर्तव्यो व अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होती है |
🌸 समाज में एक शिक्षित नारी का पारम्परिक पारिवारिक मूल्यों पर बहुत ही गहरा प्रभाव पड़ता है | एक परिवार अपने पारम्परिक मूल्यों के प्रति तभी जागरूक हो सकता है जब वो शिक्षित हो | परिवार का महत्व, हमारा धर्म, हमारे संस्कार, हमारी परम्पराये इनका हमारे जीवन में विशेष महत्व होता है ओर इन सबकी उचित परिभाषा एक शिक्षित नारी भली भॉंति जानती व समझती है | वह अपने परिवार को इन सबके प्रति जागरूक करती है |🌸🌸
💫💫💫💫💫💫
पारिवारिक समस्या शिक्षित नारी सुलझाती है
संघर्ष करते हुए जीवन में
हमेशा मुस्काती है |
कठिन परिश्रम करते हुए
आगे ही बढ़ती जाती है
अपने कर्तव्यो को समझते हुए
परिवार में अपनी अहम्
भूमिका निभाती है |
💫💫💫💫💫💫
नारी शिक्षित, परिवार शिक्षित 🙏🏽