सीरवी समाज - मुख्य समाचार

होली के रंग में मगन हुआ मन श्री आईजी सीरवी गैर मंडल मैसूरु ने मनाया 13वां होली स्नहे मिलन 
Posted By : Manohar Seervi 11 Mar 2020, 05:36:27

मैसूरु।  शहर में नीला, पीला, हरा गुलाबी कच्चा-पक्का रंग, रंग डाला रे मेरा अंग-अंग गीतों की धुनों पर थिरकते महिलाएं, पुरुष, युवा व् बच्चे होली के रंग में सराबोर थे। रंगों से बचने के लिए कोई इधर भाग रहा था तो कोई उधर, परन्तु रंग, अबीर और गुलाल से सभी रंगे नजर आए।  लोग टोलियां बनाकर एक दूसरे को रंगने में मशगूल थे। छिटपुट घटनाओं के साथ शहर में होली का पर्व मंगलवार को उल्लास और शांतिपूर्ण वातावरण में सम्पन्न हुआ। शांति व्यवस्ता कायम रखने के लिए पुलिस-प्रशासन भी सख्त नजर आया। 

श्री आईजी सीरवी गैर मण्डल, केआरएस रोड़ बडेर मैसूरु का 13वां होली स्नेह मिलन समारोह 10  मार्च 2020 वार मंगलवार को श्री आईमाता मंदिर परिसर में अत्यंत उल्लासमय वातावरण में श्रद्धा व भक्ति के साथ धूमधाम से मनाया गया, जिसमे मैसूरु व आसपास के क्षेत्रों के अलावा कर्नाटक के अन्य शहरों से आए प्रवासी सीरवी समाज के लोग सपरिवार शामिल हुए। 
राजस्थानी वेशभूषा में सज-धज कर आये नर-नारियों व बच्चों के हुजूम का उत्साह व उमंग देखते ही बन रहा था। झूला झूलते बच्चे, फागों गीत गाती महिलाएँ और होली की बधाई में मशगूल बड़े-बुजुर्ग तथा जोश से भरी युवाओं की रँगीली टोली का नजारा देख कर ऐसा लग रहा था मानो आईमाता मंदिर में ग्राम हेब्बाल का मेला भरा हुआ हो। 

दिन भर चले होली स्नेह मिलन समारोह का शुभारंभ श्री आईजी सीरवी गैर मण्डल अध्यक्ष श्री मोहन लाल सोलंकी, सीरवी समाज (पं.) मैसूरु बडेर के अध्यक्ष श्री मोटाराम सोलंकी, श्री आईजी सीरवी सेवा संघ के अध्यक्ष श्री रूपाराम राठौड़ , श्री आईजी महिला मण्डल अध्यक्ष शीला सोलंकी सहित सभी अतिथियों व पदाधिकारियों ने दीप प्रज्वलित कर किया। इसके पश्चात श्री आईमाताजी की स्तुति, पूजा-अर्चना एवं आरती हुई। श्री आईजी सीरवी गैर मण्डल, केआरएस रोड़ मैसूरु की और से होली स्नेह मिलन में राजस्थान से पधारे बुजुर्गों तथा अन्य अतिथियों का माल्यार्पण द्वारा स्वागत किया गया। अध्यक्ष श्री मोहन लाल सोलंकी ने अपने स्वागत भाषण में कहा कि इस तरह के आयोजन से हम सबको एक-दूसरे से मिलने का मौका मिलता है और आपसी सदभाव व मेलजोल बढ़ता है। उन्होंने स्नेह मिलन को सफल बनाने के लिए सबका आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर हजारों लोगों ने एक-दूसरे से गले लगकर होली की बधाई दी। गैर मंडल के उपाध्यक्ष श्री मंगलाराम  काग ने बताया की समाज के गणमान्य लोगों ने समारोह में पहुंचकर उपस्थित लोगों को बधाईयाँ दी। इसके आलावा समाज के अध्यक्ष मोटाराम सोलंकी तथा सचिव सुभास काग ने भी होली मिलन समारोह में पहुंचकर लोगों से गले मिलकर होली की बधाई दी। दिन भर चलने वाले इस समारोह में सांस्कृतिक एवं ढुँढन कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया। जिसमे बड़ी संख्या में समाज के सदस्य सपरिवार शामिल हुए। समाज के अध्यक्ष तथा गैर मंडल के अध्यक्ष ने होली शान्ति पूर्वक मनाने पर लोगों को खास तौर बधाई दी। 

09 मार्च 2020 वार सोमवार को रात 8 बजे  होलिका दहन  कार्यक्रम सम्पन्न हुआ 

श्री आईजी सीरवी गैर मण्डल, केआरएस रोड़ बडेर मैसूरु  की और से दिनांक 09 मार्च 2020 वार सोमवार  को श्री आईमाता मंदिर परिसर में होलीला दहन किया गया। पंडित गोविंद त्रिपाठी केे सान्धिय में विधिविधान से सोमवार की शाम शुभ मुहूर्त में होलिका दहन हुआ। इसके साथ ही चंग की थाप और फाग गीतों पर गैर नृत्य हुआ । 

होली को लेकर सोमवार की सुबह से ही माहौल जमने लगा था। वहीं शाम को शुभ मुहूर्त में पारंपरिक पूजा-पाठ के साथ होलिका दहन हुआ। अध्यक्ष ने अपने उदबोधन में सीरवी समाज की सहराना करते हुए कहा की आज राजस्थानी समुदाय के लोग भी प्रवास में अपनी परम्परा जीवित रखते हुए अनेक कार्य करते हैं। साथ ही महिलाओं ने कच्चा सूत हाथों में लेकर होलिका की परिक्रमा की और नारियल, कंडे की माला, मिठाई और हरवा अर्पित कर सुख-समृद्घि की कामना की। होलिका दहन के बाद सभी ने एक-दूसरे को गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर नगाड़ों की थाप भी होती रही। जैसे-जैसे रात होती गई वैसे ही सभी ओर होली का माहौल और भी गहरा होता गया। वहीं दूर रह रहे अपने परिजनों और दोस्तों को सोशल मीडिया के माध्यम से ई-कार्ड व वीडियो के माध्यम से संदेश देने का सिलसिला भी चलता रहा।

सीरवी समाज (पं.) मैसूरु ट्रस्ट के संस्थापक श्री सुरारामजी  सोलंकी ने अथितियों  का सम्मान किया। सीरवी समाज मैसूरु के अध्यक्ष श्री मोटारामजी  सोलंकी, सचिव श्री सुभाषजी  काग, कोषाध्यक्ष श्री ओगड़रामजी गहलोत, श्री आईजी सीरवी सेवा संघ अध्यक्ष रूपाराम राठौड़, सचिव प्रकाश पंवार, महिला मण्डल की अध्यक्ष शीला सोलंकी, सचिव कुसुम देवड़ा, कोषाध्यक्ष शोभा सोलंकी सहीत तमाम लोग उपस्थित रहे।

प्रस्तुति :- मनोहर सीरवी राठौड़ पुत्र श्री रतनलाल जी राठौड़ जनासनी - साँगावास (मैसूरु-कर्नाटक)