सीरवी समाज - मुख्य समाचार

सीरवी समाज (पं.) मैसूरु का 33वां वार्षिक सम्मेलन एवं माही  बीज महोत्सव हर्षोंल्लास से मनाया गया 
Posted By : Manohar Seervi 26 Jan 2020, 12:44:52

मैसूरु। चंदन की नगरी मैसूरु स्थित केआरएस रोड़ पर हेब्बाल शहर के ह्रदयस्थल में बसा सीरवी समाज का आस्था का केन्र्द श्री आईमाताजी के मंदिर परिसर में सीरवी समाज (पं.) मैसूरु का 33 वां वार्षिक सम्मेलन एवं माही बीज महोत्सव रविवार दिनांक 26 जनवरी, 2020  को आईमाता धाम में अत्यंत उल्लासमय वातावरण में धूमधाम से मनाया गया, जिसमें मैसूरु व् आसपास के क्षेत्रों के अलावा अन्य प्रमुख शहरों से आये प्रवासी सीरवी बंधु सपरिवार बड़ी संख्या में शामिल हुए।
माही  बीज की पावन वेला में दिनांक 26 जनवरी, 2020  को उपस्थित बंधुओं, माताओं-बहिनों की महक्ति उपस्थित में विशेष पूजा-अर्चना कर, मंगल आरती की गई, उसके बाद सभी भक्तों ने सपरिवार माताजी की पूजा-अर्चना कर सुख समृद्धि की कामना की, जो सिलसिला दिनभर पंक्तिबद्ध रूप से चलता रहा। दिन भर चले कार्यक्रम में बड़ी संख्या में समाज के सदस्य सपरिवार शामिल हुए। सम्मेलन समारोह में जहाँ गाँव के बड़े-बुजुर्ग सामाजिक मुद्दों पर चर्चा में मशगूल रहे, वहीँ युवाओं व् बच्चों ने महिला मण्डल के सानिध्य में सांस्कृतिक व रंगारंग कार्यक्रम की प्रस्तुतियां दी। जिसमे बालिकाओं द्वारा आईमाताजी के गीतों पर शानदार नृत्य किया। इस दौरान कई मनोरंजन कार्यक्रम हुए जिसमे राजस्थान का पारंपारिक गैर नृत्य विशेष आकर्षक का केन्द्र रहा। युवाओं की टोली ने दिन भर चली कार्यक्रम की व्यवस्था संभालने में सक्रिय भूमिका निभाने के साथ ही मनोरंजन का भी आनन्द लिया। कार्यक्रम में बिच-बिच में बोलियां ली गयी, जिसमे समाज बंधुओं ने उत्साह व उमंग से भाग लिया। माताजी रे केसर तिलक री बोली के लाभार्थी दलारामजी  हाम्बड़ उढगली, माताजी रे हार री बोली के लाभार्थी रतनलालजी काग, माताजी रे भोग री बोली के लाभार्थी धर्मारामजी  सीरवी, माताजी री मंगल आरती के लाभार्थी सुभाषजी काग तथा महाप्रसादी के लाभार्थी लक्ष्मण राम जी लिखमाराम जी प्रेमजी पंवार रहे। टी नरशिपुर रोड पर स्तिथ आलनहल्ली में सीरवी समाज द्वारा संचालित शाश्वेता स्कूल कमरों के लिए समाज द्वारा बोलियाँ बोली गई जिसमे गुदड़रामजी चोयल ने स्कूल में एक कमरा निर्माण की बोली ली वही बुधारामजी लचेटा , मोहनलाल जी, चेतन जी, गोपालजी, ओमजी मुलेवा, राजूजी मुलेवा, पुखराजजी मुलेवा ने भी बोलियाँ ली।  
अध्यक्ष श्री मोटारामजी  सोलंकी ने अपने स्वागत भाषण में पधारे सभी अतिथियों, समाज बंधुओं, माताओं-बहिनों को बीज की शुभ कामनाएं दी, वही श्री आईजी महिला मण्डल अध्यक्ष शीला सोलंकी, सचिव कुसुम देवड़ा , कोषाध्यक्ष शोभा सोलंकी ने माहि बीज महोत्सव की बधाई देते हुए महिलाओं के विकास पर सभी के सहयोग से कार्य करने का भरोसा दिलाया।
इस पावन अवसर पर पधारे हुए अतिथियों का शॉल,पुष्पहार व् साफा  से सम्मान सीरवी समाज के पदाधिकारियों द्वारा किया गया।     
कोषाध्यक्ष श्री ओगड़राम गेहलोत ने दो  वर्ष का लेखा-जोखा पेश किया। इस अवसर पर पधारे समाज बंधुओं के लिए सामूहिक भोजन प्रसादी की व्यवस्था की गई, जिसमे सभी ने सपरिवार लाभ लिया। 
दो दिवसीय चलने वाले इस महोत्सव को लेकर सीरवी समाज के कार्यकर्ताओं ने श्री आईमाताजी के मन्दिर को विशेष लाइटिंग व पुष्पहार से सजाया गया। शनिवार दिनांक 25 जनवरी, 2020  को रात्रि 7.15 बजे एक शाम श्री आईमाताजी के नाम का आगाज भजन गायक मंगलाराम, जियाराम एंड पार्टी द्वारा किया गया। भजन कलाकारों ने भक्तो को भावविभोर कर नाचने को विवश कर दिया। 
इस अवसर पर सीरवी समाज (पं.) मैसूरु के संस्थापक सुरारामजी सोलंकी, अध्यक्ष मोटारामजी सोलंकी, सचिव सुभाषजी  काग, प्रभुरामजी  पंवार, रतनलाल जी काग , श्री आईजी सीरवी गैर मंडल अध्यक्ष मोहनलालजी  सोलंकी, श्री आईजी सेवा संघ अध्यक्ष तिलोकरामजी  परिहार, सचिव रूपाराम राठौड़, श्री आईजी महिला मण्डल अध्यक्ष शीला सोलंकी, सचिव कुसुम देवड़ा, कोषाध्यक्ष शोभा सोलंकी  सहीत समाजजनों का सक्रीय योगदान रहा।
मंच का संचालन रूपाराम राठौड़ ने किया। अन्त में इस महोत्सव में पधारे सभी बंधुओं का अध्यक्ष  मोटाराम सोलंकी ने आभार प्रकट करते हुए समारोह समापन की घोषणा की। 
प्रस्तुति :- मनोहर सीरवी राठौड़ सुपुत्र श्री रतनलाल जी राठौड़ जनासनी-सांगावास (मैसूरु)