सीरवी समाज - मुख्य समाचार

आई माता के जीवन पर पहली बार हिंदी वेब सीरीज का हो रहा है निर्माण पटकथा का कार्य अंतिम चरणों में
Posted By : Manohar Seervi on 13 Jan 2020, 14:34:52

मुंबई / संपूर्ण देश में बसे सीरवी समाज की आराध्य देवी मां आई माता के जीवन चरित्र को पहली बार भक्त हिंदी वेब सीरीज के माध्यम से विस्तृत रूप से देख पाएंगे l
पिछले डेढ़ साल से आई माता की जीवन चरित्र पर तथ्यात्मक शोध कर रही मुंबई की एक फिल्म निर्माण कंपनी द्वारा वेब सीरीज की पटकथा का कार्य पूरा कर लिया गया है और जल्द ही इसकी शूटिंग सुरु होगी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार राजस्थान के गोडवाड और मारवाड़ मैं अपने चमत्कारों के माध्यम से 15 शताब्दी में जनमानस में देवी के रूप में स्थापित हुई आई माता के जीवन चरित्र को लेकर पहली बार हिंदी भाषा के माध्यम से संपूर्ण देश के सामने लाने का एक विशेष प्रयास मुंबई की फिल्म कंपनी मंगल मीडिया द्वारा किया जा रहा हैl
जिसके तहत माता जी की महत्वपूर्ण घटनाओं को भिन्न-भिन्न एपिसोड के माध्यम से फिल्माया जाएगाl
प्रोजेक्ट के शिल्पकार व मंगल मीडिया के फिल्म कंपनी के निर्देशक कैलाश चौधरी के निर्देशन में बनने जा रही इस हिंदी भाषी वेब सीरीज की पटकथा वह कहानी का कार्य पिछले डेढ़ वर्ष से शोध के रूप में चल रहा था l
जिसे अब सीरवी समाज के धर्मगुरु व् वर्तमान दीवान माधव सिंह जी द्वारा अनुमति मिलने के बाद अब इसे सिनेमैटिक तरीके से पर्दे पर उतारा जा रहा है
चौधरी के अनुसार इस वेब सीरीज में गुजरात अंबापुर में माता जी के जन्म से लेकर अंतिम समय तक की तमाम चमत्कारिक घटनाओं को विस्तारित रूप से चित्रित किया जाएगा l
साथ ही इस बार आई भक्तों को कुछ ऐसे स्थानों की भी जानकारी वहां की चमत्कारी कहानियां को दिखलाया जाएगा जो समय के गर्भ में छुपी हुई है l

आई माता पर आधिकारिक व प्रमाणित इतिहास लिखने वाले सदी के इतिहासकार लेखक मोहनजी राठौड़ (बिलाड़ा) द्वारा लिखी गई पुस्तकों पुराने पट्टे परवानो शिलालेखों व जनमानस में कही जाने वाली कहानियों के आधार पर वेब सीरीज की एक एक कहानी को प्रशिद्ध लेखक केशव राठोड ने लिखा है। जिसमे
इन तमाम कहानियों को 15 वी शताब्दी के काल के साथ गठजोड़ कर तत्कालीन समय की परिस्थितियों पहनावे वह बोली का समावेश किया गया l

उपरोक्त वेब सीरीज से जुड़े हुए कई फिल्मों के मुख्य सहायक निर्देशक रहे कुमार आचार्य के अनुसार यह वेब सीरीज बड़े बजट की होगी जिसमें संपूर्ण फिल्मांकन किसी फीचर फिल्म की तरह होगा साथ ही फिल्में ऐतिहासिक किरदारों की भरमार के चलते जोधपुर और मेवाड़ के कई पुराने इतिहासकारों की मदद ली जा रही है उनके द्वारा रेखांकित परिवेश के आधार पर 500 साल पूर्व पहने जाने वाले कपड़े तैयार किए जाएंगे।
पटकथा के बाद अब जल्द ही वेब सीरीज फ्लोर पर जाएगी जिसकी तैयारियों में अभी से ही मंगल मीडिया कंपनी के अनुबंधित कर्मचारी विभिन्न कार्यों को प्लान का रूप देने में जुटे हुए हैं। वेब सीरीज में बॉलीवुड से जुड़े हुए कलाकारों के साथ-साथ राजस्थान मूल के कलाकारों को भी मौका दिया जा रहा हैl