मुख्य पृष्ठ | इतिहास | संपर्क | आपके सुझाव | मुख्य समाचार | फ्री रजिस्ट्रेशन | Login | सीरवी महासभा

सदस्य सूची व्यवसाय अनुसार
 Accountant
 Advocate
 Banking
 Business Members
 Chartered Accountant
 Computers / IT
 Defence
 Doctors
 Education Department
 Engineers
 Farmer
 Goverment Employee
 Health Department
 LIC Agents
 Management(MBA)
 Media
 NRI Seervi
 Others
 Police Department
 Politician
 Property Dealers
 Scientist
 Students





Follow Us : Facebook Twitter

 
   चेत्र सुदी बीज के शुभ अवसर पर बिलाडा में रंगारंग कार्यक्रम

चेत्र सुदी बीज महोत्सव 2017 बिलाड़ा, 29 मार्च, चेत्र सुदी बीज के शुभ अवसर पर बिलाडा में रंगारंग कार्यक्रम और भव्य आयोजन हुए। सीरवी नवयुवक मंडल बढेर और सीरवी नवयुवक मंडल बिलाडा ग्राम इकाई के संयुक्त प्रयासों से बीज का यह आयोजन इस बार अविस्मरणीय रहा। बढेर चोक में पूरे प्रांगण में फरिया लगाकर सजावट की गयी। अमर हुतात्मा स्मारक पर रंग बिरंगी रौशनी की गयी तथा एक विशाल स्वागत द्वार का निर्माण भी किया गया। बीज की पूर्व संध्या पर भजन संध्या का आयोजन मंदिर प्रांगण में किया गया इसमें विविध कलाकारों ने माँ आईजी के भजनों से ऐसा समां बाँधा कि आई भक्त झूम उठे। मेले में आने वाले लोगो को गर्मी में पानी की व्यवस्था के लिए दो प्याऊ लगाये गए जिसमे भामाशाहों ने और कार्यकर्ताओं ने खूब योगदान दिया । सांयकालीन समय में माताजी के धर्मरथ भेल का बधावणा भी बहुत ही शानदार तरीके के किया गया। महिला शक्ति ने मंगल कलश धारण कर मंगल गीत गाएं। नवयुवक मंडल के सभी सदस्य एक निश्चित वेश भूषा में डीजे पर माताजी के भजनों पर थिरकते हुए जलुश में शरीक हुए। मारवाड़ का पारंपरिक गेर नृत्य करते हुये गेर मंडल के सदस्य आकर्षक वेशभूषा में ढोल की थाप पर अलग ही दृश्य पेश कर रहे थे। नवयुवको की पूरी टीम के अतिरिक्त पञ्च, कोटवाल और अन्य गणमान्य व्यक्ति विशेष भी केसरिया साफा के साथ समारोह की शोभा बढ़ा रहे थे। जलूस में दीवान श्री माधव सिंह , कुँवर लक्ष्मण सिंह जी भी अपने विशेष सज्जाकृत जीप में सवार होकर शामिल थे। जलुश में साथ चल रही दो झांकिया जिसमें श्री आई माताजी और दीवान रोहितदास जी का जीवन चरित्र बताया गया दर्शको को बरबस ही आकर्षित कर रही थी। वातावरण माताजी के जयकारों से भक्तिमय हो चला था।

Posted By डॉ दिनेशा सोलंकी बिलाड़ा on 10 Apr 2017, 13:59:3