सीरवी समाज - मुख्य समाचार

मनीष सीरवी ने अपनी मेहनत व् लगन से सीए फाइनल की परीक्षा में 21वीं रैंक के साथ पूर्ण की
Posted By : Manohar Seervi on 27 Jan 2019, 14:10:45

न्यूज़ लेखक नरेंद्र राठौड़ मैसूरु

किसी विधान ने ठीक ही कहा
जब भाग्य चक्र चमक रहा हो और कर्तव्य राह बतला रहा हो वो उस मौके को मत जाने दो, भय से कॉप कर दूर न हटो, यदि सुख अपनी वाटिका में तुम्हें बुला रहा हो तो भी उधर मत झाको। वीरता से अपने लक्ष्य की ओर देखते ओर बढ़ते जाओ। अवसर तुम्हारी रहा देखने बैठा हैं।

सरल सौम्य स्वभाव, स्पष्ट वक्ता, व्यवहार कुशल, न्यायप्रिय श्री मनीष काग सीरवी का जन्म 21 दिसंबर 2000 को पाली जिले की जैतारण तहशील की ग्राम कारोलिया के साधारण व्यवसायी परिवार में हुआ। पिता श्री मांगीलाल जी काग के लाड़-प्यार एवं माताश्री नौजी देवी के स्नेहमयी आँचल में संस्कारो की लोरी सुनकर पले-बढ़े श्री मनीष सीरवी तीन भाई-बहिनों में सबसे छोटे हैं। आपने सन 2004 में 5वी. तक की शिक्षा हिन्दी मिडियम आदर्श स्कूल जैतारण व 6 से 12वीं तक राबडिया वास में इंग्लिश मिडियम की शिक्षा गहन की 12वीं कक्षा ने 94 % अंक प्राप्त करने के बाद आपकी सी.ए. फाउंडेशन की परीक्षा नवम्बर में हुई जिसमे आप कड़ी मेहनत व लगन से पढाई की जिसका जीता जागता परिणाम आज सीए फाउंडेशन परीक्षा में ऑल इंडिया 21वीं रैंक में उत्तीर्ण हुए। बचपन से ही आप में शिक्षा के साथ ही अपने पिताश्री के साथ व्यवसायी के प्रति गहरी रूचि रही।

परिन्दों को मिलती है मंजिल इस दिन
में फैले हुए उनके पर बोलते है।
अवसर खामोश रहते है वे लोग,
जमाने में जिनके हुनर बोलते है

मनीष सीरवी ने बताया की मेरा अगला सपना आईएएस बनने का है जो अब में दिन रात इस तैयारी में लगा हूँ। में मेरी इस सफलता श्रय अपने माता पिता को देता हूँ जो मुझे इस मुकाम तक पहुंचाया है। मेने अपने जीवन का सारा समय अपनी शिक्षा पर बिताया। एक और युवा पीढ़ी आज के भागदौड़ में सोसल मिडिया पर ज्यादा समय बिताती है पर मेने इन चीजों को दूर री रखा है जिसका परिणाम आज आप सभी के सामने है ।

लोक हित के ताप में खुद को तपाकर,
जो निज जीवन को कुन्दन करेगा।
युग उसी मनु पुत्र का वन्दन करेगा,
कल उसी का समाज अभिनन्दन करेगा।।

सीरवी समाज के कुल दीपक मनीष सीरवी ने अपनी मेहनत व् लगन से सीए फाइनल की परीक्षा में 21वीं रैंक के साथ पूर्ण कर परिवार, समाज, तहसील व् अपने ग्राम कारोलिया का मान एवं गौरव बढ़ाया है। सीरवी समाज हार्दिक बधाई देते हुए उज्जवल भविष्य की मंगलकामना करता हैं।