सीरवी समाज - मुख्य समाचार

देसूरी में सीरवी समाज के तत्वावधान में द्वारकाधीश महोत्सव में 70 युवाओं एवं संतों का किया बहुमान
Posted By : Posted By Manohar Seervi Rathore on 14 May 2018, 02:22:18
देसूरी में सीरवी समाज के तत्वावधान में शनिवार की रात्रि में भजन संध्या के साथ द्वारकाधीश महोत्सव शुरू हुआ। जिसमें आसपास के गांवों से सीरवी समाज के लोगों ने भाग लिया। महोत्सव के अंतिम दिन रविवार की सुबह द्वारकाधीश जाने वाले भक्तों का संतों के सानिध्य में सीरवी समाज की ओर से तिलक लगाकर बधावणा किया। सीरवी समाज के लोगों ने बताया कि सीरवी समाज के तत्वावधान में द्वारकाधीश महोत्सव के तहत शनिवार की रात्रि में संतों के सानिध्य में भजन संध्या आईमाता मंदिर वडेर के पास आयोजित की गई। भजन संध्या का आगाज गायक श्याम पालीवाल बालोतरा ने गणपति वंदना से किया। रातभर चली भजन संध्या में गायकों ने एक से बढ़कर एक भजन प्रस्तुत कर समां बांध दिया। वहीं महोत्सव के दूसरे दिन रविवार की सुबह द्वारकाधीश जाने वाले भक्तों का तिलक लगाकर बधावणा कार्यक्रम संतों के सानिध्य में आयोजित किया गया। उसके बाद 10 बजे भजन कीर्तन कार्यक्रम शुरू हुआ। वहीं दोपहर में महाप्रसादी का आयोजन किया गया। द्वारकाधीश महोत्सव को लेकर समाज के लोगों को अलग-अलग जिम्मेदारी दी गई है। महोत्सव में भाग लेने वाले सीरवी समाज के लोगों ने श्री आई माताजी के मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना कर खुशहाली की कामना की। समारोह में जस्साराम सोलंकी भामाशाह,नेैनाराम पूर्व सरपंच, मोतीलाल चौधरी पूर्व सरपंच,जीवाराम घांची पूर्व प्रधान,डॉ.रूपाराम चौधरी,चैनाराम चौधरी,गणेश सीरवी,मोहनलाल सीरवी,फुआराम चौधरी आदि उपस्थित थे।
धर्म की मार्ग पर युवाओं को चलना चाहिए : संत : द्वारकाधीश महोत्सव में प्रवचन देते हुए संत महेंद्रसिंह राणावत ने कहा कि धर्म की राह पर युवाओं को चलना चाहिए,क्योंकि धर्म के बिना मानव जीवन अधूरा है। इस दौरान जती भगा बाबा नारलाई,भंवर महाराज,लक्ष्मणदास महाराज आदि उपस्थित थे।